राम कीर्तन अनवरत चल रहा वैदिक कर्मकांड से किया समापन: डॉ प्रीति सिंह - DRS NEWS24 LIVE

Breaking

Post Top Ad

राम कीर्तन अनवरत चल रहा वैदिक कर्मकांड से किया समापन: डॉ प्रीति सिंह

#DRS NEWS 24Live
गाजीपुर:रिपोर्ट मोहम्मद कादिर:सत्यदेव ग्रुप ऑफ़ कॉलेजेस गांधीपुरम बोरशिया गाज़ीपुर के  अंतर्गत सत्यदेव डिग्री कॉलेज के पुनीत प्रांगण में कल से राम कीर्तन अनवरत चल रहा था जो आज  वैदिक कर्मकांड  से  समापन किया गया।  हवन पूजन का कार्य भानु प्रताप चतुर्वेदी के द्वारा किया गया तथा यजमान के रूप में सत्यदेव ग्रुप आफ कॉलेज की जननी संरक्षिका तथा ट्रस्टी  सावित्री सिंह तथा सत्यदेव ग्रुप आफ कॉलेजेस की निदेशक डॉक्टर प्रीति सिंह थी। इस पुनीत कार्य  की बेला पर  भाला गांव के पूर्व प्रधान सुरेंद्र प्रताप सिंह खालिसपुर गांव के वर्तमान प्रधान राजेश सिंह तथा सुरेश गिरी मुख्य रूप से उपस्थित होकर  भव्य समापन के साक्षी बने साथ ही सत्यदेव ग्रुप आफ कॉलेज के काउंसलर दिग्विजय उपाध्याय सत्यदेव डिग्री कॉलेज के निदेशक अमित रघुवंशी सत्यदेव डिग्री कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर रामचंद्र दुबे सत्यदेव इंटरनेशनल स्कूल के प्रधानाचार्य चंद्रसेन तिवारी सत्यदेव कॉलेज आफ फार्मेसी के प्राचार्य डॉक्टर तेज प्रताप सिंह दिनेश सिंह, मिलन दुबे कृष्णानंद उपाध्याय श्याम भज तिवारी तथा सत्यदेव ग्रुप ऑफ़ कॉलेजेस परिवार के समस्त सदस्य गण ने रामलला के प्राण प्रतिष्ठा के शुभ अवसर पर  रामकीर्तन  का समापन संपन्न कराने में सहायक बने। सत्यदेव ग्रुप ऑफ़ कॉलेजेस की निदेशक डॉ प्रीति सिंह ने आत्म विभोर एवं गदगद मन से बताया की राम  एक  असीमित विचारधारा संस्कृति उल्लास श्रद्धा प्रेम भक्ति तथा साहस का प्रतीक है । राम ऊर्जा के अक्षय भंडार हैं राम के बिना एक कण का भी अस्तित्व में होना असंभव है । ऐसे मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम के आचरण और उनकी वीरता उनकी वैचारिक कुशलता गुरु भक्ति हम सबके लिए और देश के युवाओं के लिए अनुकरणीय है। अगर आज हर एक युवा भगवान राम के आदर्श का पालन करें और उसके अंदर राम भक्त हनुमान का साहस  और  विश्वास हो तथा जामवंत जैसा रणनीति और कूटनीति की कुशलता हो तो हमारा भारत देश विश्व गुरु की महानता को पुनः प्राप्त करेगा और संपूर्ण संसार का मार्ग प्रशस्त करेगा। सत्यदेव डिग्री कॉलेज के परिसर में उपस्थित प्रत्येक व्यक्ति ने अग्नि देव को साक्षी मानकर वैदिक मंत्र   के साथ आहुति प्रदान कीए तत्पश्चात दिव्य प्रसाद का वितरण किया गया।
डीआरएस न्यूज़ नेटवर्क

No comments:

Post a Comment