मौत साजिश या आत्महत्या डेढ़ साल बच्चे का क्या कसूर - DRS NEWS24 LIVE

Breaking

Post Top Ad

मौत साजिश या आत्महत्या डेढ़ साल बच्चे का क्या कसूर

#DRS NEWS 24Live
आजमगढ़ :रिपोर्ट नीरज पण्डित:गंभीरपुर थाना क्षेत्र के खराटी गांव में बुधवार की शाम एक 25 वर्षीय विवाहिता ने छत में लगे चुल्ले के सहारे फाँसी का फन्दा लगा कर आत्म हत्या कर लिया।बताया जाता है कि गंभीरपुर थाना क्षेत्र के खराटी गांव निवासी राकू गौड़ की पत्नी शकुंतला उम्र 25 वर्ष बुधवार की शाम को अपने पति से बाजार जाने के लिए कही और पति ने ठण्ड के कारण बाजार ले जाने से मना कर दिया। और कहा कि जो तुम्हें चाहिए वह ले आएगा तो पत्नि ने बर्गर और चाउमिन लाने को कहा पति बाजार से शाम को बर्गर और चाऊमिन लेकर आया। औऱ पत्नी को देकर वह अपने दूसरे घर जो वहा से लगभग 800 मीटर दूरी पर जहां पर उसके माता पिता व अन्य परिवार के लोग रहते थे वहां से अपने डेढ़ वर्ष के बच्चों को लेने चला गया। बच्चे को लेकर जब वापस आया तो अंदर से दरवाजा बंद देख वह चिल्लाने लगा और आसपास के लोगों को बुलाया ,दरवाजा तोड़ा आनन फानन में एंबुलेंस से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मुहम्मदपुर लाया जहां चिकित्सक ने मृत्यु घोषित कर दिया। घटना की सूचना पुलिस को मिलते ही पुलिस ने  बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सूचना पर मां के पक्ष के लोग भी पहुंचे पुलिस ने सास ,ससुर जेठान व पति को पुलिस ने थाने पर पूछताछ के लिए थाने पर ले गई । दूसरे दिन बृहस्पतिवार को सैकड़ों की संख्या में मायके व ससुराल के पक्ष के लोग पहुंचे और मृतका के पिता प्रेम बहादुर व बहन लक्ष्मीना ने गंभीरपुर थाने में बयान दिया कि वह गंभीरपुर थाना क्षेत्र के ग्राम रसूलपुर के निवासी है।शकुंतला की शादी लगभग 3 वर्ष पूर्व हुई थी उसके एक लगभग डेढ़ वर्ष का लड़का है, वह परिवार के साथ खुश थी किसी भी प्रकार का कोई विवाद नहीं था बुधवार को अज्ञात कारण से वह फांसी लगा कर आत्महत्या कर लिया है। हम लोग कोई कानूनी कार्रवाई नहीं चाहते हैं।
कोई भी मां अपने बच्चे कि फिक्र तो करेगी जब सब खुश थे तो आत्महत्या क्यों? कुछ लोगों के बयान पर बिना कारण का पता लगाएं। कानूनी कार्यवाही नहीं चाहते ये कौन सा इंसाफ़ हैं। क्या कानून व्यवस्था का इंसाफ यही हैं। या फिर कानून अपना काम इमानदारी से करते हुए सही कारण का पता लगाएगी या फिर कुछ लोगों के बयान पर फाइल बंद हो और महिला को आत्महत्या घोषित कर दिया जाएगा?
डीआरएस न्यूज़ नेटवर्क

No comments:

Post a Comment