नसबंदी के बाद मौत परिजनों ने लापरवाही का लगाया आरोप - DRS NEWS24 LIVE

Breaking

Post Top Ad

नसबंदी के बाद मौत परिजनों ने लापरवाही का लगाया आरोप

#DRS NEWS 24Live
आजमगढ़:रिपोर्ट नीरज पण्डित:निजामाबाद थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम सभा फरिहा कि महीला के नसबंदी के बाद हालत बिगड़ी और फिर इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। परिजनों ने नसबंदी करने वाले डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाया है। इसके साथ ही उसने महिला की मौत पर नसबंदी के लिए ले जाने वाली आशा बहू व अन्य के खिलाफ थाने पर तहरीर देकर मुकदमा भी पंजीकृत कराया। वहीं पीएचसी प्रभारी ने नसबंदी में लापरवाही से इंकार किया और कहा कि किन्हीं अन्य कारणों से महिला की मौत हुई है। निजामाबाद थाना क्षेत्र के फरिहां दक्षिण बस्ती निवासिनी सुभावती देवी उम्र 36 वर्ष, का पांच जनवरी को पीएचसी रानी की सराय पर लगे कैंप में नसबंदी का आपरेशन हुआ था। उसे गांव की आशा बहु इंद्रावती ब्लाक पर लेकर गई थी। नसबंदी आपरेशन के बाद पांच जनवरी की देर शाम उसे घर पहुंचा दिया गया। छह को उसकी तबीयत खराब हुई तो पुनः पीएचसी पर दिखाया गया। जहां तबीयत में सुधार न होने पर उसे जिला महिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। जिला महिला अस्पताल से उसे सात जनवरी को राजकीय मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया। जहां इलाज के दौरान सोमवार की रात सुभावती की मौत हो गई। मृतका के पति सेवालाल का आरोप है कि उसकी पत्नी के आपरेशन में लापरवाही हुई और बिना उसकी अनुमति के ही आपरेशन कराया गया। उसने बताया कि आपरेशन के बाद उसकी पत्नी को मार्टीनगंज ब्लाक पर ले जाया गया और पूरे दिन एंबुलेंस में बैठा कर घुमाने के बाद देर शाम घर छोड़ा गया। सुभावती दिव्यांग थी वह तीन पुत्री व एक पुत्र की मां थी। सुभावती की मौत से परिजनो में कोहराम मच गया है। पति ने इस बाबत आशा बहु व अस्पताल प्रशासन के खिलाफ थाने में तहरीर भी दिया है।
चिकित्सा अधीक्षक, पीएचसी रानी की सराय डॉ. मनीष तिवारी ने बताया कि महिला की मौत नसबंदी आपरेशन के कारण नहीं हुई है। उसे शौच करने में पहले से परेशानी थी, जिसके बारे में उसने आपरेशन के पूर्व कुछ बताया नहीं था। संभवतः उसकी कारण से महिला की मौत हुई है।
थाना प्रभारी, निजामाबाद सच्चिदानंद यादव ने बताया कि मृतका के पति की तहरीर पर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजवा दिया गया है। इसके साथ ही सीएमओ को भी सूचना दे दी गई है। पोस्टमार्टम व सीएमओ के जांच रिपोर्ट के आधार पर आगो की कार्रवाई की जाएगी।
डीआरएस न्यूज़ नेटवर्क

No comments:

Post a Comment