पांच साल बाद भी नहीं शुरू हो सका ट्रामा सेंटर - DRS NEWS24 LIVE

Breaking

Post Top Ad

पांच साल बाद भी नहीं शुरू हो सका ट्रामा सेंटर

#DRS NEWS 24Live
बहराइच।रिपोर्ट फिरदौस आलम: दुर्घटनाओं के शिकार और अन्य गंभीर मरीजों का इलाज करने के लिए शहर के मलेरिया अस्पताल में बना ट्रामा सेंटर पांच वर्ष बाद भी शुरू नहीं हो सका है। 2.61 करोड़ रुपये की लागत से वर्ष 2018 में भवन बनकर तैयार हो गया लेकिन अब तक चिकित्सक व पैरामेडिकल स्टाफ की तैनाती नहीं हो सकी है।शहर के चांदपुरा चौराहा के निकट पुराना मलेरिया अस्पताल में वर्ष 2016 में ट्रामा सेंटर बनाने के लिए शासन से मंजूरी मिली थी। 40 बेड वाले ट्रामा सेंटर का निर्माण कार्य दो साल में वर्ष 2018 में पूरा हो गया था। इसके बाद वर्ष 2020 में भवन स्वास्थ्य विभाग को हस्तांतरित किया गया। ट्रामा सेंटर में 61 डॉक्टर व कर्मियों की तैनाती होनी थी। लेकिन अब तक न तो डॉक्टर व कर्मियों की तैनाती हुई है और न ही संसाधन उपलब्ध कराए जा सके हैं। इससे ट्रामा सेंटर का संचालन नहीं हो सका है।
लखनऊ रेफर हो रहे गंभीर रूप से घायल मरीज
जिले में प्रतिदिन तमाम सड़क हादसे होते हैं। इनमें कई गंभीर रूप से घायल मरीजों को मेडिकल कॉलेज में इलाज नहीं मिल पाता है। इससे उन्हें प्राथमिक इलाज के बाद डॉक्टर लखनऊ रेफर कर देते हैं। ऐसे में बहराइच से लखनऊ तक लगभग 128 किमी लंबी दूरी तय करने में मरीजों की जान खतरे में पड़ जाती है। कोविड काल में बना था क्वारंटाइन सेंटर
40 लाख की आबादी वाले जिले में कोविड काल के दौरान जिले के लगभग 10 हजार लोग कोरोना संक्रमित हुए थे। दो वर्षों में 178 लोगों की मौत हो गई थी। इस दौरान ट्रामा सेंटर में कोरोना मरीजों को भर्ती करने के लिए यहां क्वारंटाइन वार्ड बनाया गया था। इन पदों पर होनी थी तैनाती आपातकालीन चिकित्सक- 06 नेत्र सर्जन- 02 आर्थोपेडिक सर्जन- 02
जनरल सर्जन- 02 लैब टेक्नीशियन- 05 एक्सरे टेक्नीशियन- 05 ओटी टेक्नीशियन- 06 स्टाफ नर्स- 15 मल्टी टास्क वर्कर- 09 नर्सिंग असिस्टेंट- 09 ट्रामा सेंटर चालू करने की कवायद शुरू डॉक्टर  पैरामेडिकल स्टाफ आदि कर्मचारियों व संसाधन न होने की वजह से ट्रामा सेंटर का संचालन शुरू नहीं हो सका है। इसको लेकर शासन को पत्र लिखा गया है। जल्द से जल्द इसे चालू कराया जाएगा।
डीआरएस न्यूज नेटवर्क बहराइच

No comments:

Post a Comment