बहराइच से लखनऊ तक सुगम होगी राह - DRS NEWS24 LIVE

Breaking

Post Top Ad

बहराइच से लखनऊ तक सुगम होगी राह

#DRS NEWS 24Live
बहराइच। रिपोर्ट फिरदौस आलम:जिले से राजधानी लखनऊ आने-जाने वाले लोगों की राह जरवल तक अब और सुहानी होगी। शासन की ओर से जरवल से बहराइच तक के राजमार्ग को फोरलेन बनाने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए शासन की ओर से 940.46 करोड़ रुपए की संस्तुति भी की गई है।हाईवे चौड़ीकरण को लेकर एनएचएआई ने टेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी है। राजमार्ग चौड़ा होने से जिले की 40 लाख आबादी के साथ बाहरी वाहन चालकों को भी सीधा फायदा मिलेगा।
जिले से राजधानी लखनऊ की दूरी लगभग 130 किलोमीटर है। टू लेन के इस राष्ट्रीय राजमार्ग 927 पर जिले से प्रतिदिन 8,000 से अधिक छोटे-बड़े वाहन राजधानी आते-जाते हैं। लेकिन मार्ग पर डिवाइडर न होने से हादसे की आशंका अक्सर बनी रहती है। जिले के लोग काफी दिनों से इसे फोरलेन करने की मांग कर रहे थे। जिसपर शासन ने मुहर लगा दी है। सरकार ने जिले की सीमा क्षेत्र में पड़ने वाले 57.200 किलोमीटर राजमार्ग को चौड़ा करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है।
जरवल से बहराइच तक के इस मार्ग के निर्माण के लिए एनएचएआई की ओर से 940.46 करोड़ का प्रस्ताव तैयार कर टेंडर प्रक्रिया की व्यवस्था शुरू कर दी है। एनएचएआई की ओर से 27 दिसंबर से 13 फरवरी तक ऑनलाइन टेंडर आमंत्रित किए गए हैं।
जल्द शुरू होगा भूमि अधिग्रहण
एनएचएआई की ओर से टेंडर प्रक्रिया पूरी होने के बाद भूमि अधिग्रहण का कार्य शुरू किया जाएगा। विभागीय जानकारी के अनुसार मार्च से भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू होगी। हाईवे के चौड़ीकरण की जद में आने वाले किसानों के खेतों, मकानों के एवज में सर्किल रेट के आधार पर मुआवजा दिया जाएगा।
गोंडा, बलरामपुर और श्रावस्ती के लोगों को भी फायदा जरवल से बहराइच तक राजमार्ग के फोरलेन होने से बहराइच के साथ मंडल के अन्य जिलों को भी सीधे तौर पर फायदा होगा। श्रावस्ती जिले के लोग राजधानी का सफर इसी मार्ग से तय करते हैं। वहीं, बलरामपुर व गोंडा के वाहन चालक भी इसी मार्ग का प्रयोग करते हैं।
हादसों में आएगी कमी
राजमार्ग को फोरलेन किए जाने की सूचना के बाद से स्थानीय लोगों में खुशी है। फत्तेपुरा निवासी विवेक बाजपेई, पीयूष, चित्तौरा के धरसवां निवासी अजीत सिंह, नानपारा निवासी सेवानिवृत्त शिक्षक हनुमान प्रसाद मिश्रा व अन्य ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी जिला मुख्यालयों को फोरलेन से जोड़ने की घोषणा की थी। जिसे उन्होंने पूरा किया।
बहराइच से जरवल तक के राजमार्ग पर तीन ब्लॉक मुख्यालय समेत लगभग एक दर्जन बाजार व कस्बे पड़ते हैं। जिसमें टिकोरा मोड़, मरौचा, फखरपुर, गजाधरपुर, कुंडासर, कैसरगंज, जरवल आदि शामिल हैं। हाईवे किनारे बाजा होने से अक्सर हादसे होते रहते हैं और लंबा जाम लग जाता है। फोरलेन मार्ग पर डिवाइडर बनने से हादसों में कमी आएगी और जाम से भी निजात मिलेगी।
भविष्य में रुपईडीहा तक बनेगा फोरलेन
अभी 57 किलोमीटर का मार्ग फोरलेन किया जाएगा। इसके बाद रुपईडीहा तक इसे बढ़ाया जाएगा। फोरलेन होने से सौंदर्यीकरण के साथ अवैध अतिक्रमण खत्म होगा। साथ ही हादसों में कमी आएगी और जाम से निजात मिलेगी। फोरलेन मार्ग से जिले के विकास को भी गति मिलेगी।
डीआरएस न्यूज नेटवर्क बहराइच

No comments:

Post a Comment